प्रारंभिक सज्जा (BASIC SETUP)

TOPIC : 01.01.02 प्रारंभिक सज्जा (BASIC SETUP)

शतरंज को शतरंज के बिसात पर खेला जाता है जो एकांतर रंगों के 64 वर्गों (8×8) में बंटा हुआ एक वर्गाकार बोर्ड होता है जो ड्राफ्ट्स (चेकर्स) के खेल में प्रयुक्त होने वाले बोर्ड जैसा होता है। बिसात के वास्तविक रंग चाहे कोई भी हों, हल्के रंग वाले वर्ग ‘लाइट’ अथवा ‘सफेद’ तथा गहरे रंग वाले वर्ग ‘डार्क’ अथवा ‘काले’ कहलाते हैं। 16 “सफेद” और 16 “काले” मोहरे बिसात पर, खेल की शुरुआत में, रखे जाते हैं। बिसात इस प्रकार बिछाया जाता है कि एक सफेद वर्ग प्रत्येक खिलाड़ी के दाहिने कोने में पड़े और एक काला वर्ग बाएं कोने में. [White on Right ] प्रत्येक खिलाड़ी का निकटतम दायां वर्ग सफेद होना चाहिए।

मोहरा का नाम और संख्या
प्रत्येक खिलाड़ी के अधिकार में 16 मोहरे होते हैं।

1) राजा/बादशाह/King [ K ] = 1
2) मंत्री/वज़ीर/रानी/Queen [ Q ] = 1
3) हाथी / किश्ती/ Rook [ R ] = 2
4) ऊँट / फील/ Bishop [ B ] = 2
5) घोड़ा / kNight [ N ] = 2
6) सैनिक / सिपाही / प्यादा / pawn [ ] = 8

खिलाड़ी की ओर से दूसरी पंक्ति में 8 प्यादे होते हैं; खिलाड़ी की निकटतम पंक्ति में बाकी मोहरे होते हैं। मोहरों की व्यवस्था को याद रखने के लिए लोकप्रिय वाक्यांश “हर कोने से हाथी, घोड़ा, ऊँट” है जो प्राय: नए खिलाड़ियों में प्रचलित होते हैं “क्वीन ऑन ओन कलर” (“queen on own color”) है।

TOPIC : 01.01.03 :: वर्गों की पहचान

बीजगणितीय अंकनपद्धति में वर्गों का नामकरण होता है:-

बिसात का प्रत्येक वर्ग एक अक्षर और एक संख्या के एक विशिष्ट युग्म द्वारा पहचाना जाता है। खड़ी पंक्तियों (फाइल्स) को सफेद के बाएं (अर्थात वज़ीर/रानी वाला हिस्सा) से सफेद के दाएं ए (a) से लेकर एच (h) तक के अक्षर से सूचित किया जाता है। इसी प्रकार क्षैतिज पंक्तियों (रैंक्स) को बिसात के निकटतम सफेद हिस्से से शुरू कर 1 से लेकर 8 की संख्या से निरूपित करते हैं। इसके बाद बिसात का प्रत्येक वर्ग अपने फाइल अक्षर तथा रैंक संख्या द्वारा विशिष्ट रूप से पहचाना जाता है। उदाहरण के लिए, सफेद का राजा [ K ] खेल की शुरुआत में ई1 (e1) वर्ग में रहेगा. बी8 (b8) वर्ग में स्थित काला घोड़ा पहली चाल में ए6 (a6) अथवा सी6 (c6) पर पहुंचेगा.